एएनएम व जीएनएम कोर्स क्या है? ANM की नौकरी कैसे पाएं?

ANM GNM kya hai, दोस्तों, आज हम बात करेंगे कि ANM व GNM क्या होता है व इसे कैसे किया जा सकता हैं। दरअसल आप अपने जीवन में कई बार डॉक्टर के पास गए होंगे। फिर चाहे आपको कोई बीमारी हुई हो या आप अपने किसी जानने (ANM kya hai) वाले को देखने या उसको दिखाने अस्पताल गए हो।

अब आपका सामना अस्पताल में हमेशा डॉक्टर से तो होता नही होगा ना। आप पहले नर्स मिलते (GNM kya hai) होंगे और फिर ही डॉक्टर के पास जाते होंगे। तो बस वही नर्स बनने का कोर्स ही ANM या GNM कोर्स के नाम से जाना जाता हैं। यह दोनों ही कोर्स नर्स बनने की दिशा में प्रमुख कदम होते (ANM course in Hindi) हैं।

इसलिए यदि आप डॉक्टर नही बनना चाहते हैं या किसी कारणवश डॉक्टर बन पाने में असमर्थ हैं तो चिंता मत कीजिए क्योंकि आप ANM या GNM कोर्स करके नर्स अवश्य बन सकते हैं। इसलिए आइए जानते हैं ANM व GNM कोर्स क्या होता हैं।

Contents show

एएनएम व जीएनएम कोर्स के बारे में संपूर्ण जानकारी (ANM GNM kya hai)

आज आपको इस लेख के माध्यम से दोनों कोर्स के ऊपर संपूर्ण जानकारी जानने को मिलेगी। पहले आपको ANM कोर्स के बारे में विस्तार से बताया जाएगा। तत्पश्चात GNM कोर्स करने के ऊपर भी जानकारी दी जाएगी।

इसको पढ़कर आप जान पाएंगे कि आखिरकार एक सफल नर्स बनने के लिए इन दोनों ही कोर्स का कितना बड़ा योगदान हो सकता हैं। आइए ANM व GNM कोर्स के बारे में जाने।

एएनएम व जीएनएम कोर्स क्या है? ANM की नौकरी कैसे पाएं?

ANM क्या है (ANM kya hota hai)

ANM नर्स बनने की दिशा में सबसे शुरूआती चरण होता हैं और हम जो अस्पताल में नर्स की सहायक की भूमिका में देखते हैं वे दरअसल ANM का कोर्स किये हुए ही होती हैं।

ऐसे में यदि आप आप भी ANM कोर्स करने के लिए इच्छुक हैं तो आपका (ANM kya haiai) इसके बारे में पूरी जानकारी लेना आवश्यक हैं। आइए जाने ANM कोर्स के बारे में सबकुछ।

ANM की फुल फॉर्म (ANM full form in Hindi)

यदि आप नर्स बनने के लिए ANM कोर्स करना चाहते हैं तो आपका इसकी फुल फॉर्म जानना भी आवश्यक हैं। ANM कोर्स का फुल फॉर्म ऑग्जिलरी नर्स मिडवाइफरी (Auxiliary Nurse Midwifery) होता है।

यदि बात ANM के हिंदी नाम की की जाए तो उसे हिंदी में भी इसी नाम से ही जाना जाएगा। यह कोर्स नर्स बनने के लिए किया जाता हैं।

ANM कोर्स के लिए योग्यता (ANM course details in Hindi)

अब यदि आप ANM कोर्स करने के बारे में सोच रहे हैं तो इसके बारे में सबसे महत्वपूर्ण बात जो आपके लिए जानना जरुरी हैं वह यह हैं कि इसे केवल और केवल महिलाएं ही कर सकती हैं। कहने का अर्थ यह हुआ कि यदि आप पुरुष हैं और आप ANM कोर्स करने के इच्छुक हैं तो आप किसी भी स्थिति में इसके लिए आवेदन नही कर सकते हैं। यह कोर्स केवल महिलाओं के लिए ही होता हैं और इसे कर भी वही सकती हैं।

अब यदि आप महिला या लड़की हैं तो आपका ANM कोर्स करने के लिए कम से कम दसवीं पास होना अनिवार्य हैं। इसके लिए आपको ज्यादा आगे तक पढ़ने की आवश्यकता नही होती हैं और यह दसवीं कक्षा पास करके आसानी से किया जा सकता हैं। साथ ही इस बात का ध्यान रखे कि आपके दसवीं कक्षा में कम से कम 45 प्रतिशक अंक आये हो। यदि आपके इससे कम अंक आये हैं तो आप ANM कोर्स न्हु कर पाएंगी।

ANM कोर्स की अवधि (ANM course duration)

अब बात करते हैं कि ANM कोर्स को करने में आपका कितना समय लग जाएगा। तो आप यह जान ले कि ANM का कोर्स कुल 2 वर्ष का होता है। ऐसे में आपको किसी कॉलेज में प्रवेश लेकर वहां 2 वर्ष के लिए ANM का कोर्स करना पड़ेगा और तभी आपको किसी अस्पताल में नर्स का काम मिल पाएगा।

ANM कोर्स की फीस (ANM course fees)

अब यदि ANM कोर्स में लगने वाले खर्चे की बात करें तो यह भी कुछ ज्यादा नही होती हैं और आप बहुत ही कम पैसों में ANM का कोर्स कर सकते हैं। ANM का कोर्स यदि आप किसी सरकारी कॉलेज से करते हैं तो आपको बस 5 से 10 हज़ार की फीस ही देनी होगी।

जबकि यदि आप ANM का कोर्स किसी निजी या प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो आपकी फीस 10 से 30 हज़ार तक हो सकती हैं। यह पूर्ण रूप से आप पर निर्भर करता हैं कि आप किस कॉलेज से ANM का कोर्स करना चाहते हैं।

ANM के बाद सरकारी नौकरी कैसे पाएं? (ANM careers and jobs Hindi)

अब बात करते हैं कि जब आप ANM का कोर्स पूरा कर लेंगी और उसमे 2 वर्ष तक सब कुछ सीख भी लेंगी तो आपको किस तरह की नौकरी मिलेगी। जैसा कि हमने आपको ऊपर ही बताया कि ANM का कोर्स नर्स बनने की दिशा में सबसे शुरूआती कदम होता हैं। ऐसे में यदि आप ANM कोर्स करके नौकरी करना चाहती हैं तो आपको नर्सिंग के क्षेत्र में सबसे नीचला पद दिया जाएगा।

इसमें आपको बड़ी नर्स की सहायक के तौर पर काम करना होगा। आपके काम में रोगियों को दवाई देना, उनका सामान्य चेकअप करना, उपकारों की साफ सफाई, उन्हें सही जगह पर रखना, डॉक्टर व नर्स के दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करना, भर्ती रोगियों की दैनिक रूप से देखभाल करना इत्यादि समिलित होगा।

ANM की सैलरी (ANM ki salary kitni hoti hai)

अब सबसे अंतिम और मुख्य बात और वह यह हैं कि एक ANM कितना कमा लेती है। यदि हम ANM की सैलरी की बात करे तो उसकी सैलरी 10 हज़ार से शुरू होकर 25 हज़ार तक की हो सकती हैं। आगे चलकर यह आपके काम पर निर्भर करेगा की आपको अस्पताल में कितनी जल्दी प्रमोशन मिलता हैं और उसके अनुसार ही आपकी सैलरी भी होगी।

GNM क्या है (GNM kya hota hai)

अब जब हमने ANM के बारे में सब कुछ जान लिया हैं तो अब बात करते हैं नर्स बनने की ही दिशा में अगले कोर्स GNM की। दरअसल यह (GNM kya haiai puri jankari) भी नर्स बनने के लिए ही एक कोर्स होता हैं लेकिन यह ANM कोर्स से बड़ा कोर्स होता हैं और इसे करके उनसे बड़ा पद भी मिलता हैं। इसलिए यदि आप ANM कोर्स की बजाए GNM कोर्स को करने का सोच रहे हैं तो आइए जाने GNM कोर्स के बारे में संपूर्ण जानकारी।

GNM की फुल फॉर्म (GNM full form in Hindi)

यदि हम GNM कोर्स की फुल फॉर्म की बात करें तो वह होगी जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी (General Nursing and Midwifery). यदि बात GNM कोर्स (GNM ka full form) के हिंदी नाम की की जाए तो उसे हिंदी में भी इसी नाम से ही जाना जाएगा। ऐसे में यदि आप यह कोर्स करना चाहते हैं तो आपको इसके बारे में अन्य जानकारी लेना आवश्यक हैं।

GNM कोर्स के लिए योग्यता (GNM course details in Hindi)

अब बात करते हैं कि यदि आप GNM कोर्स करने के इच्छुक हैं तो इसके लिए आपको क्या क्या करना पड़ेगा और आपका किन किन चीजों में योग्य होना आवश्यक हैं। सबसे पहले तो आप यह जान ले कि ANM कोर्स को तो केवल महिलाएं ही कर सकती थी लेकिन GNM कोर्स को महिला व पुरुष दोनों कर सकते हैं। इसलिए पुरुष लोग निराश मत होइए। यदि वे नर्स बनना चाहते हैं तो उन्हें ANM की बजाए GNM कोर्स करना चाहिए।

साथ ही इसे करने के लिए आपका बारहवीं पास होना अनिवार्य होता हैं। इसके साथ ही आपको दसवीं के बाद 11वीं में अपनी स्ट्रीम के रूप (GNM nursing in Hindi) में मेडिकल को चुनना होता हैं। कहने का तात्पर्य यह हुआ कि यदि आपने अपनी 11वीं व बारहवीं कक्षा मेडिकल में नही की हैं तो फिर आप GNM कोर्स को नही कर पाएंगे।

इसके साथ ही आपका बारहवीं कक्षा में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक लाना अभी अनिवार्य होता हैं। तो एक तरह से संक्षेप में बात की जाए तो यदि आप GNM का कोर्स करना चाहते (GNM kya hai full details) हैं तो आपके पास 11वीं व 12वीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री व बायोलॉजी के साथ मेडिकल होनी चाहिए व साथ ही बारहवीं में 50 प्रतिशक से अधिक अंक आने चाहिए। तभी आप GNM का कोर्स कर पाएंगे।

GNM कोर्स की अवधि (GNM course duration)

अब्ब यदि GNM कोर्स को करने की अवधि की बात की जाए तो वह भी ANM से ज्यादा होगी। साथ ही इसमें आपको पढ़ाई के अलावा ट्रेनिंग भी करनी होगी। तो यदि आप GNM का कोर्स करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको किसी कॉलेज में GNM कोर्स में प्रवेश लेना होगा। उसके बाद आपको वहां 3 वर्ष रहकर पढ़ाई करनी होगी। तो एक तरह से देखा जाए तो ANM कोर्स को करने में आप 3 वर्ष का समय देंगे।

इसके बाद आपको 6 माह की ट्रेनिंग भी करनी होगी। यह ट्रेनिंग आपको अपने कॉलेज के द्वारा लिंक्ड किसी अस्तपाल में या फिर अपनी ओर से किसी (GNM ka course kya haiai) अस्पताल में करनी होगी। वहां आपको किसी नर्स व डॉक्टर के नेचे रहकर काम करना होगा। जब आप 6 माह की ट्रेनिंग पूरे कर लेंगे तो उस अस्पताल के द्वारा आपको एक सर्टिफिकेट दे दिया जाएगा।

अब आपको इसी सर्टिफिकेट को अपने कॉलेज को दिखाना होगा। कॉलेज इस सर्टिफिकेट को देखकर और आपके GNM में आये नंबर के आधार पर आपको GNM की डिग्री दे देगा। तो एक तरह से यदि GNM की डिग्री करने में कुल समय को देखा जाए तो इसमें आपके 3.5 वर्ष लगेंगे।

GNM कोर्स की फीस (GNM course ki fees kitni hai)

यदि आप GNM कोर्स करने जा रहे हैं तो आपको इसकी फीस को लेकर भी जानकारी चाहिए होगी। तो हम आपको बता दे कि यदि आप सरकारी कॉलेज से GNM का प्कोउरसे करेंगे तो इसमें आपको कम फीस देनी होगी जबकि प्राइवेट कॉलेज में इसके लिए ज्यादा पैसे चुकाने होंगे।

सरकारी कॉलेज से GNM का कोर्स (GNM nursing ki fees) करने पर आपको 20 से 30 हज़ार का खर्चा करना होगा जबकि यदि आप निजी कॉलेज से GNM का कोर्स करेंगे तो इसके लिए आपको 30 से 70 हज़ार का खर्चा करना पड़ सकता हैं।

जीएनएम के बाद सरकारी नौकरी कैसे पाएं? (GNM kya karti hai)

अब जब आप GNM में 3.5 वर्ष का कोर्स पूरा कर लेंगे तो इसके बाद आपको किसी अस्पताल में नौकरी पर रखा जाएगा। तो आप जानना चाहेंगे कि GNM का कोर्स करके आपकी नियुक्ति किस तरह की पोस्ट पर होगी। तो आज हम आपको बता दे कि GNM कोर्स करने के बाद भी आपकी मुख्य नर्स के रूप में नौकरी नही लगेगी और आप उनकी सहायक के तौर पर ही नियुक्त होंगे।

हालाँकि आपका पद ANM का कोर्स किये हुए लोगों से ऊपर होंगे। जहाँ एक ओर ANM का कोर्स करने के बाद आप सीमित संख्या में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं तो वही GNM के कोर्स  में आपके पास नर्सिंग में नौकरी करने के लगभग हर अवसर खुल जाएंगे।

इसमें आपकी नौकरी मुख्य नर्स को रिपोर्ट करना, ANM नर्स को आदेश देना, डॉक्टर को ऑपरेशन में मदद करवाना, रोगियों का चेकअप करना और उन्हें दवाइयां देना, उनके टेस्ट करना, उनकी रिपोर्ट तैयार करना, डॉक्टर को रोगी को देखने में मदद करना, इत्यादि कई तरह के काम आएंगे।

GNM की सैलरी (GNM ki salary kitni hai)

यदि बात GNM का कोर्स करने वाले नर्स की सैलरी की की जाए तो वह भी ANM से ज्यादा होगी। GNM का कोर्स किये हुए नर्स की सैलरी 20 हज़ार से शुरू होकर 50 हज़ार तक हो सकती हैं। यह पूर्ण रूप से आपको मिलने वाली नौकरी, आपके अनुभव व GNM में आपके आये नंबर पर निर्भर करती हैं।

इसलिए यदि आप अपने 3.5 वर्ष के GNM के कोर्स को सीरियस लेकर पढ़ लेंगे और उसमे अच्छे अंक प्राप्त कर लेंगे तो फिर आपकी अच्छी सैलरी पर आसानी से नौकरी लग जाएगी। एक बार नौकरी लगने के बाद आपकी पोस्ट व सैलरी (GNM ki salary kitni hoti hai) पूर्ण रूप से आपके काम की गुणवत्ता व अनुभव के आधार पर ही तय होगी।

ANM GNM कोर्स करने के कॉलेज (GNM ANM best college in India)

यदि आप ANM व GNM का कोर्स करने के लिए बेस्ट कॉलेज देख रहे हैं तो हम आपको यहाँ कुछ चुनिंदा कॉलेज की सूची प्रदान कर रहे हैं। आइए जाने ANM व GNM कोर्स को करने के बेस्ट कॉलेज की सूची:

  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), दिल्ली [All India Institute of Medical Sciences (AIIMS), Delhi]
  • SCB मेडिकल कॉलेज, कटक [SCB Medical College, Cuttack]
  • सशस्त्र बल चिकित्सा महाविद्यालय, पुणे, महाराष्ट्र [Armed Forces Medical College, Pune, Maharashtra]
  • CCM मेडिकल कॉलेज, दुर्ग [CCM Medical College, Durg]
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मंगलौर, कर्नाटक [Kasturba Medical College, Mangalore, Karnataka]
  • असम मेडिकल कॉलेज, डिब्रूगढ़ [Assam Medical College, Dibrugarh]
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई, तमिलनाडु [Madras Medical College, Chennai, Tamil Nadu]
  • बेलगाम इंस्टिट्यूट मेडिकल साइंस, बेलगाम [Belgaum Institute of Medical Science, Belgaum]
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़, हरियाणा व पंजाब [Chandigarh University, Chandigarh, Haryana and Punjab]
  • शारदा यूनिवर्सिटी, नोयडा [Sharda University, Noida]
  • IIMT यूनिवर्सिटी, मेरठ [IIMT University, Meerut]

ANM GNM की नौकरी देने वाले टॉप अस्पताल (GNM ANM top hospitals in India)

अब बात करेंगे उन अस्पतालों की जिनमें आप ANM GNM का कोर्स करने के बाद नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं। आइए जाने ANM व GNM की नौकरी देने वाले भारत के सर्वश्रेष्ठ अस्पतालों के बारे में:

  • फोर्टिस [fortis]
  • वेदांता [Vedanta]
  • मैक्स [Max]
  • एम्स [AIIMS]
  • ग्लोबल [Global]
  • लाइफ स्प्रिंग [life spring]
  • नारायण [Narayan]
  • टाटा [Bye]
  • रिलायंस [reliance]
  • पारस [Paras]
  • हिंदुजा [Hinduja]

ANM GNM क्या है – Related FAQs

प्रश्न: एएनएम और जीएनएम कोर्स में क्या अंतर है?

उत्तर: एएनएम कौसे दस्वों के बाद किया जा सकता है जिसकी अवधि 2 वर्ष की होती है जबकि जीएनएम कोर्स को बारहवीं के बाद किया जाता है जिसकी अवधि 3.5 वर्ष की होती है।

प्रश्न: ANM का क्या काम होता है नर्सिंग में?

उत्तर: ANM को किसी भी अस्पताल में नर्स की सहायक के तौर पर काम करना होता है जिसमे रोगी की देखभाल व उपकरणों का रखरखाव सम्मिलित है।

प्रश्न: जीएनएम की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर: जीएनएम की सैलरी 20 हज़ार से लेकर 40 हज़ार तक हो सकती है।

प्रश्न: जीएनएम करने से क्या होता है?

उत्तर: जीएनएम करने से आप किसी भी अस्पताल में डॉक्टर व मुख्य नर्स की सहायक की भूमिका निभा सकते है।

प्रश्न: एएनएम कितने साल का होता है?

उत्तर: एएनएम 2 साल का होता है।

प्रश्न: सरकारी नर्स का वेतन कितना है?

उत्तर: सरकारी नर्स का वेतन 20 हज़ार से लेकर 40 हज़ार तक का होता है।

तो आज आपने जाना कि ANM व GNM का कोर्स क्या होता है, इनकी फुल फॉर्म क्या है, इसे कैसे किया जा सकता है, इसको करने के बाद क्या किया जा सकता है, इसमें नौकरी के क्या क्या अवसर है (GNM ANM nursing course details in Hindi), इनके बेस्ट कॉलेज कौन से है तथा इसे करने के बाद किन किन संस्थान में नौकरी मिल सकती है इत्यादि।

Leave a Comment

कंपार्टमेंट के लिए आवेदन कैसे करें? प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2023 एमटीपी एक्ट 2021 क्या है? डेट फंड का क्या मतलब होता है? रिकरिंग डिपॉजिट क्या होता है?