Aadhaar Card Virtual ID Kya Hai ? मोबाइल से आधार कार्ड वर्चुअल ID कैसे बनाये ?

Aadhaar Card Virtual ID कैसे बनाये  आधार कार्ड आज एक महत्वपूर्ण दस्तावेज बन चुका है | राशन की दुकान से लेकर स्कूल में बच्चे के एडमिशन तक में आधार कार्ड का उपयोग किया जाता है | आज आप कहीं भी किसी भी काम के लिए जाते हैं | तो आपको आधार कार्ड कार्ड की आवश्यकता जरूर पड़ती जरूर पड़ती है | बैंक आदि में आप बिना आधार कार्ड के अपना अकाउंट भी अब ओपन नहीं करवा सकते हैं | इसके साथ ही जो अकाउंट पहले से ही ओपन हैं | उनमें यदि आप आधार कार्ड सबमिट नहीं करेंगे | तो वह बैंक आपका अकाउंट क्लोज कर देंगे | आधार कार्ड को हर जगह आवश्यक दस्तावेज बना देने से इसकी उपयोगिता और अधिक बढ़ गई है |

Aadhaar Card Virtual ID Kya Hai ? मोबाइल से आधार कार्ड वर्चुअल ID कैसे बनाये ?

कुछ समय पहले आधार कार्ड में सेव डाटा की हैकिंग आदि के बारे में काफी चर्चाएं चल रही थी | आधार कार्ड से यूजर की डिटेल्स का गलत उपयोग  को रोकने के लिए सरकार ने आधार वर्चुअल आईडी का निर्माण किया | अब आपको कहीं भी अपने आधार कार्ड नंबर को शेयर करने की जरूरत नहीं है | आप केवल अपना 16 अंकों का वर्चुअल ID देकर अपना काम चला सकते हैं | भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने आधार कार्ड का वर्चुअल ID लॉन्च किया है | और जून माह से यह पूरी तरह से लागू कर दिया गया है | और सभी स्थानों पर यह स्वीकार किया जाता है |

यदि आप जानना चाहतें हैं कि Aadhaar Card Virtual ID क्या है ? Aadhaar Card Virtual ID Aadhaar Card Virtual ID क्या है ? आधार कार्ड वर्चुअल ID से क्या फायदे हैं ? Aadhaar Card Virtual ID आप कैसे बना सकते हैं ? तो इन सभी जानकारी को प्राप्त करने के लिए आपको यह आर्टिकल लास्ट तक पढ़ना होगा | हम यहां आपको इन सभी सवालों के जवाब प्रदान करेंगे |

आधार कार्ड वर्चुअल ID क्या है –

आधार कार्ड के बारे में तो आप सभी लोग जानते ही होंगे | इसलिए हम यहां पर केवल Aadhaar Card Virtual ID के बारे में ही बात करेंगे | बात करें Aadhaar Card Virtual ID के बारे में तो वर्चुअल ID एक तरह से आधार कार्ड का डुप्लीकेट है | जिसमें यूज़र की सिर्फ कुछ बेसिक डिटेल्स जैसे धारक का नाम , उसका पता , फोटो आदि ही शेयर की जा सकती है | आधार कार्ड वर्चुअल ID को केवल आधार कार्ड धारक ही भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण की ऑफिशियल वेबसाइट से अथवा आधार कार्ड आधार कार्ड सेंटर के माध्यम से जनरेट कर सकता है | Aadhaar Card Virtual ID को आप एक से अधिक बार जनरेट कर सकते हैं |

इसके साथ ही वर्चुअल ID एक लिमिटेड समय तक ही वैलिड रहती है | पुराना वर्चुअल ID नंबर इनवैलिड अथवा एक्सपायर होने के पश्चात आपको पुनः वर्चुअल ID जनरेट करना होता है | अथवा आप जैसे ही नया वर्चुअल ID जनरेट करते हैं | वैसे ही आपका पुराना वर्चुअल ID इनवैलिड हो जाता है | इसके साथ ही आधार कार्ड वर्चुअल ID काफी सिक्योर है | इसकी डुब्लीकेट कॉपी भी नहीं बनाई जा सकती है |

आधार कार्ड वर्चुअल ID की क्यों जरुरत है  –

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं | कुछ समय पहले आधार कार्ड से जुड़े डेटा की की सेफ्टी को लेकर काफी सवाल खड़े किए गए थे | कई बड़ी कंपनियों द्वारा दावा किया गया था | कि किया आधार कार्ड  का डाटा लीक लीक हो रहा है | जिसका दुरुपयोग भी किया जा सकता है |  इस चीज को ध्यान में रखते हुए  यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने आधार कार्ड सिस्टम को और अधिक मजबूत बनाने के लिए इसमें कई  बदलाव किए हैं |  ताकि यूजर का डाटा और अधिक सुरक्षित रखा जा सके | इन्हीं बदलाव में से एक आधार कार्ड वर्चुअल ID भी है | Aadhaar Card Virtual ID का उपयोग करने से आपको अपना आधार कार्ड नंबर कहीं पर  बताने की जरूरत नहीं पड़ेगी |

Aadhaar Card Virtual ID का उपयोग आप कहीं पर भी कर सकते हैं | इससे  केवल यूज़र की बेसिक डिटेल्स  ही शेयर होती है |  एक रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान समय में  करीब 120 करोड़ नागरिकों का आधार कार्ड बनाया जा चुका है | और आधार कार्ड लगभग सभी जगह जैसे स्कूल , बैंक , फोन कंपनी , नौकरी  सरकारी योजनाओं आदि में अनिवार्य रूप से  प्रस्तुत किया जाना आवश्यक हो गया है |

Aadhaar Card Virtual ID की विशेषताएं –

आधार कार्ड वर्चुअल ID की कुछ प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार हैं –

  1. आधार कार्ड वर्चुअल ID का उपयोग करने से यूजर का आधार डाटा बिल्कुल सेफ है | उसका किसी भी प्रकार से गलत उपयोग नहीं किया जा सकता है |
  2. Aadhaar Card Virtual ID केवल 1 दिन के दिन के के लिए ही मान्य होती है | 1 दिन के बाद आपको पुनः वर्चुअल ID जनरेट करना होता है |
  3. इसके साथ ही आप चाहे तो 1 दिन में भी कई बार ID जनरेट कर सकते हैं | और जैसे ही आप नई वर्चुअल ID जनरेट करते हैं | पुरानी वर्चुअल ID इनवैलिड हो जाती है |
  4. वर्चुअल ID का उपयोग करके यूजर अपने बेसिक डिटेल्स कहीं भी बैंक , इंश्योरेंस कंपनी , टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर आदि के साथ साथ सुरक्षित तरीके से शेयर कर सकते हैं |

वर्चुअल ID के सेफ्टी फीचर्स –

आधार कार्ड का डाटा लीक होने की खबरों के बाद भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने आधार कार्ड डेटा को सुरक्षित करने के लिए कई महत्वपूर्ण बदलाव किए | आधार कार्ड का मिस यूज को रोकने के लिए Aadhaar Card Virtual ID का निर्माण किया | क्योंकि आधार कार्ड नंबर से यूजर डाटा चोरी होने के ज्यादा चांस है | इसलिए वर्चुअल ID का के उपयोग करने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा प्रोत्साहित किया जा रहा है | वर्चुअल Id द्वारा यूज़र की सिर्फ पांच डिटेल ही किसी सर्विस प्रोवाइडर के साथ शेयर की जाती हैं | जिनमें नाम , डेट ऑफ बर्थ , फोटो , एड्रेस और मोबाइल नंबर है | और इनमें भी सिस्टम द्वारा केवल उन्हीं चीजों को सर्विस प्रोवाइडर द्वारा शेयर किया जाएगा | जिसकी जरूरत सर्विस प्रोवाइडर को उस समय होती है |

उदाहरण के तौर पर देखें तो यदि आप एक नया नया सिम कार्ड लेने जा रहे हैं | और आप सर्विस प्रोवाइडर को अपना वर्चुअल ID नंबर बताते हैं | तो इस समय आपका केवल नाम , फोटो और एड्रेस ही सर्विस प्रोवाइडर के साथ शेयर किया जाएगा | बाकी अन्य किसी डिटेल्स को सर्विस प्रोवाइडर के साथ शेयर नहीं किया जाएगा | जिसकी इस समय जरूरत नहीं है |

Aadhaar Card Virtual ID जनरेट कैसे करें –

यदि आप ने आधार कार्ड में सेव डेटा की सुरक्षा को लेकर काफी सतर्क हैं | तो आप कहीं पर भी अपना आधार कार्ड नंबर शेयर ना करें | जब भी कहीं आपको अपना आधार कार्ड नंबर शेयर करने की जरूरत पड़े तो आप तुरंत अपना वर्चुअल आधार ID जनरेट करें | और Aadhaar Card Virtual ID को ही किसी सर्विस प्रोवाइडर के साथ शेयर करें | Aadhaar Card Virtual ID को आप बड़ी आसानी से 3 स्टेट्स में बना सकते हैं | Aadhaar Card Virtual ID जनरेट करने के लिए आपके पास निम्न दस्तावेज होने आवश्यक है  –

  • आपके पास आधार कार्ड अथवा आधार कार्ड नंबर होना आवश्यक है | जिसका उपयोग करके आप अपना वर्चुअल ID नंबर जनरेट कर पाएंगे |
  • आपके पास वह मोबाइल नंबर भी होना आवश्यक है | जो आपके आधार कार्ड के साथ साथ लिंक है | क्योंकि वर्चुअल ID जनरेट करते समय आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड भेजा जाएगा | और साथ ही वर्चुअल ID भी आपको sms के माध्यम से भी भेजी जाएगी |

Aadhaar Card Virtual ID जनरेट करने का तरीका  –

Aadhaar Card Virtual ID जनरेट करने के लिए आपको नीचे बताए गए आसान से स्टेप्स को फॉलो करना होगा  –

Aadhaar Card Virtual ID Kya Hai ? मोबाइल से आधार कार्ड वर्चुअल ID कैसे बनाये ?

  • इस नए पेज पर आपको सबसे पहले अपना आधार कार्ड नंबर डालना होगा | उसके पश्चात नीचे दिया गया सिक्योरिटी कोड को दिए गए इनबॉक्स में डालना होगा | और सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करना होगा |

Aadhaar Card Virtual ID Kya Hai ? मोबाइल से आधार कार्ड वर्चुअल ID कैसे बनाये ?

  • जैसे ही आप सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करेंगे | आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड आ जाएगा | इस वन टाइम पासवर्ड को दिए गए बॉक्स में इंटर करना होगा | और फिर आपको Generate VID या Retrieve VID पर टिक करना होगा | और फिर समिट बटन पर क्लीक करना होगा |
  • जैसे ही आप इस बटन पर क्लिक करेंगे | आपकी एक नई वर्चुअल ID जनरेट हो जाएगी | अब आप इसका उपयोग कहीं भी कर सकते हैं |

Aadhaar Card Virtual ID का ही उपयोग करें  –

यदि आप भी अपने आधार कार्ड डेटा को लेकर काफी सतर्क हैं | तो आप कहीं पर भी अपने आधार कार्ड नंबर का उपयोग ना करें | बल्कि जहां भी आपको अपने आधार कार्ड की डिटेल शेयर करने की जरूरत हो तो वहां आप अपने वर्चुअल ID को शेयर करें | इससे आपका डाटा बिल्कुल सुरक्षित रहेगा | वर्चुअल ID की सबसे बड़ी खास बात यह है कि यह ID सिर्फ 1 दिन के लिए ही मान्य होती है | एक दिन के बाद यह एक्सपायर हो जाती है | इसके साथ ही यदि आप चाहे तो 1 दिन में भी कई बार न्यू वर्चुअल ID जनरेट कर सकते हैं | जैसे ही आप न्यू वर्चुअल ID जनरेट करेंगे आपकी पुरानी वर्चुअल ID इनवैलिड हो जाएगी |

तो दोस्तों यह थी Aadhaar Card Virtual ID के बारे के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी |  यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे , तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलें | साथ ही यदि आपका किसी भी प्रकार का सवाल हो , तो तो तो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें | हम जल्द ही आपके सवालों का जवाब देंगे || धन्यवाद ||

Leave a Comment

Share3
Tweet
Pin
+1
3 Shares