12वीं के बाद पुलिस में कैसे जाएं? पुलिस बनने के लिए कौन सी पढ़ाई की जाती है?

|| 12वीं के बाद पुलिस में कैसे जाएं? 12th ke baad police me kaise jayen? How to be a policeman after 12th? 12वीं के बाद पुलिस की तैयारी कैसे करें girl, 10वीं के बाद पुलिस की तैयारी कैसे करें, पुलिस बनने के लिए कितनी हाइट चाहिए, पुलिस बनने के लिए क्या-क्या चाहिए ||

हमारे देश में खाकी वर्दी के प्रति युवाओं में बहुत आकर्षण देखने को मिलता है। इसका सीधा संबंध रूतबे से है। बहुत से युवा पुलिस में अधिकारी बनना चाहते हैं तो बहुत से केवल पुलिस की नौकरी मिल जाए, इतना ही सपना देखते हैं। जो अधिकारी बनना चाहते हैं, उनकी राह थोड़ी मुश्किल होती है।

उन्हें ग्रेजुएशन करने के बाद एसआई एग्जाम में बैठना होता है अथवा उच्चाधिकारी बनने के लिए आईपीएस (IPS) का एग्जाम क्रैक करना होता है। कांस्टेबल बनने के लिए जरूर युवा 12वीं के बाद परीक्षा में बैठ सकते हैं।

यदि आप भी 12वीं करने के बाद ही पुलिस की नौकरी पाने की जुगत में लगे हैं तो आपके पास भी बतौर कांस्टेबल पुलिसकर्मी बनने का मौका है। आज हम इस पोस्ट में जानते हैं कि 12वीं के बाद पुलिस में कैसे जाया जा सकता है। आइए, शुरू करते हैं-

पुलिस कांस्टेबल कौन होता है? (Who is a police constable?)

दोस्तों, कांस्टेबल पुलिस विभाग (police department) का एक पद होता है। आपको बता दें कि 12वीं पास किसी भी युवा की पुलिस विभाग में पहली भर्ती कांस्टेबल के रूप में ही होती है। एक कांस्टेबल (constable) को हिंदी में सिपाही अथवा आरक्षी भी पुकारा जाता है।

यदि उत्तर प्रदेश की बात करें तो वहां यूपीपीआरबी (upprb) यानी उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती बोर्ड (uttar Pradesh police recruitment board) के जरिए इस पद पर भर्ती होती है।

12वीं के बाद पुलिस में कैसे जाएं? पुलिस बनने के लिए कौन सी पढ़ाई की जाती है?

एक पुलिस कांस्टेबल का क्या कार्य होता है? (What does a constable do?)

मित्रों, एक युवा पुलिस में भर्ती उसके रूआब के चलते होना अवश्य चाहता है, लेकिन अधिकांश युवा इससे अंजान होते हैं कि एक पुलिस कांस्टेबल के कार्य क्या क्या होते हैं (what are the functions of a police constable)। यानी वह क्या करता है। यदि आपके दिमाग में भी अब यही सवाल उठ रहा है तो अब हम आपको बताएंगे कि एक पुलिस कांस्टेबल का क्या क्या कार्य होता है? यह इस प्रकार से है-

  • सामान्य रूप से एक कांस्टेबल का कार्य सूचना प्राथमिकी (first information report) यानी एफआईआर दर्ज (FIR register) करना होता है। वह शिकायत से जुड़ा सारा विवरण (details of complaint) एफआईआर में रजिस्टर करता है।
  • किसी भी जांच (investigation) अथवा किसी अन्य मामले में सीनियर आफिसर (senior officer) की मदद करना भी उसका प्रमुख कार्य है।
  • कांस्टेबल पेट्रोलिंग (petroling) का भी कार्य करता है। यानी उसकी गश्ती ड्यूटी भी लगती है।
  • पुलिस स्टेशन (police station) में किसी मामले में होने वाली कागजी कार्रवाई (paper work) को पूरा कर अफसर को प्रस्तुत करना।
  • पुलिस सत्यापन (police verification) का कार्य।
  • यदि आवश्यक हो तो ट्रैफिक ड्यूटी (traffic duty) का निर्वहन।
  • वीआईपी सुरक्षा (VIP security)।

पुलिस में भर्ती होने के लिए आवश्यक योग्यता क्या है? (What are the necessary qualification for police recruitment?)

अब हम आपको जानकारी देंगे दोस्तों कि पुलिस में भर्ती (police recruitment) के लिए एक आवेदक में क्या क्या योग्यता होनी चाहिए। ये इस प्रकार से है-

  • आवेदक भारत का नागरिक (citizen of India) हो।
  • आवेदक के नाम किसी प्रकार का कोई आपराधिक मुकदमा (criminal case) न दर्ज हो।
  • आवेदक की उम्र 18 से 22 वर्ष के बीच हो। महिला आवेदक की स्थिति में यह उम्र 18 से लेकर 25 वर्ष है।
  • आवेदक ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड अथवा संस्थान (recognised board/institution) से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की हो।
  • यदि आवेदक पुरुष है तो उसकी लंबाई न्यूनतम 165 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • महिला आवेदक की स्थिति में लंबाई न्यूनतम 150 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • आरक्षित वर्ग के पुरुष अभ्यर्थियों की लंबाई 160 सेंटीमीटर एवं महिला अभ्यर्थियों का कद 145 सेंटीमीटर होना चाहिए।
  • आवेदक के घुटने आपस में जुड़े नहीं होने चाहिए।
  • आवेदक को एचआईवी, कैंसर जैसी कोई गंभीर बीमारी नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक की नजरें कमजोर नहीं होनी चाहिए।
  • पुरुष अभ्यर्थियों के सीने की माप 83 सेंटीमीटर एवं फुलाने के बाद 87 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • आरक्षित वर्ग के पुरुष अभ्यर्थियों के सीने की माप 81 मीटर एवं फुलाने के पश्चात 85 मीटर होनी चाहिए।
  • पुरुष आवेदक को 5 किलोमीटर की दौड़ 25 मिनट में पूरी करनी होगी।
  • महिला आवेदक को 2.5 यानी ढाई किलोमीटर की दौड़ 15 मिनट में पूरी करनी होगी।

दोस्तों, आपको बता दें कि एक कांस्टेबल की भर्ती के लिए राज्य स्तर पर परीक्षा का आयोजन किया जाता है। ऐसे में कांस्टेबल पद पर भर्ती से संबंधित मानदंड अलग अलग राज्यों में अलग अलग हो सकती हैं। जैसे उत्तराखंड में पुलिस भर्ती के लिए पुरुष अभ्यर्थियों की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष एवं अधिकतम आयु 37 वर्ष निर्धारित की गई है।

पुलिस कांस्टेबल बनने के लिए क्या करना होगा? (What to do to be a police constable?)

दोस्तों, अब हम आपको जानकारी देंगे कि आपको पुलिस कांस्टेबल के रूप में पुलिस विभाग में भर्ती होने के लिए क्या करना होगा। आपको इन स्टेप्स को पार करना होगा-

  • सबसे पहले 12वीं पास करें। इसमें स्ट्रीम यानी साइंस/आर्ट्स/कामर्स जैसी कोई बाध्यता नहीं है।
  • आपकी उम्र 18 से लेकर 25 वर्ष के बीच हो।
  • फिजिकल फिटनेस (physical fitness) पर ध्यान दें।रेगुलरली भाग- दौड़ करें।
  • कांस्टेबल की भर्ती निकलने के पश्चात देर न कर तुरंत आवेदन (apply) करें। अधिकांशतः इसकी भर्ती प्रक्रिया आफलाइन (offline) ही होती है।
  • इसके लिए आयोजित लिखित परीक्षा (written exam) को पास करें। याद रहे कि इस परीक्षा में निगेटिव मार्किंग (negative marking) होती है।
  • यदि आप यह परीक्षा पास कर लेते हें तो आपको फिजिकल टेस्ट/परीक्षा (physical test/exam) यानी चिकित्सा जांच के लिए बुलावा भेजा जाएगा।
  • इस टेस्ट को पास करने के पश्चात उन सभी प्रमाण पत्रों (certificates) की जांच की जाएगी, जो आपने विभाग को भर्ती के आवेदन के साथ मुहैया कराए हैं।
  • इसके पश्चात चिकित्सा जांच यानी आपका मेडिकल टेस्ट (medical test) होगा।
  • यदि आप इस टेस्ट में खरे उतरते हैं तो आपको भर्ती का लेटर जारी कर दिया जाएगा।
  • आपकी पुलिस ट्रेनिंग (police training) शुरू कर दी जाएगी।

यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पैटर्न क्या है? (What is the pattern of up constable recruitment exam?)

साथियों, यदि आप पुलिस में भती होना चाहते हैं तो आपको इस परीक्षा के पैटर्न के विषय में जानकारी होना आवश्यक है, ताकि आप उसी के अनुसार तैयारी कर चयन (selection) के प्रति आश्वस्त हो सकें।

आपको बता दें कि इस परीक्षा में कुल 150 अंक पूछे जाते हैं। एक प्रश्न दो अंक का होता है। इस प्रकार यह परीक्षा कुल 300 अंकों की होती है। इस परीक्षा का पैटर्न इस प्रकार से है-

विषयविषय प्रश्नों की संख्याअंक
सामान्य हिंदी (general hindi)3774
सामान्य ज्ञान (general knowledge)3876
संख्यात्मक क्षमता (numerical ability)3876
मानसिक क्षमता/ रीजनिंग (mental ability/reasoning)3774

परीक्षा से जुड़े कुछ खास बिंदु इस प्रकार से हैं-

  • परीक्षा में निगेटिव मार्किंग होगी। गलत जवाब देने पर 0.5 अंक काट लिए जाएंगे।
  • पेपर में सभी बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे।
  • पेपर हिंदी एवं अंग्रेजी में आएगा।
  • पेपर का स्तर न्यूनतम शैक्षिक मानक के अनुरूप होगा।
  • फिजिकल एग्जाम के लिए कोई अंक निर्धारित नहीं किया गया है।

यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का सिलेबस क्या है? (What is the syllabus of up constable recruitment exam?)

मित्रों, यदि आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं और पुलिस विभाग में बतौर आरक्षी भर्ती होना चाहते हैं तो आज हम आपको इस परीक्षा के सिलेबस के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

आपको बता दें कि यूपी पुलिस कांस्टेबल परीक्षा का सिलेबस बहुत वृहद है। इसमें भारतीय इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था, राजनीति, संस्कृति, खेल, प्रौद्योगिकी के साथ ही राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। इसका सिलेबस (syllabus) इस प्रकार से है-

सामान्य हिंदी–

हिंदी एवं अन्य भारतीय भाषाएं, भाषा: हिंदी व्याकरण की मूल बातें, हिंदी व्याकरण का मौलिक ज्ञान, हिंदी वर्णमाला, तद्भव-तत्सम, पर्यायवाची-विलोम, अनेकार्थी वाक्य के स्थान पर एक शब्द, समरूपी भिन्नार्थक शब्द अशुद्ध वाक्यों को शुद्ध करना, लिंग वचन, कारक, सर्वनाम विशेषण, क्रिया, काल, अव्यय, वाच्य, उपसर्ग, संधि, प्रत्यय, संधि-समास, विराम चिन्ह, मुहावरे-लोकोक्तियां, रस, छंद, अलंकार, अपठित बोध, प्रसिद्ध कवि, लेखक, उनकी प्रसिद्ध रचनाएं, हिंदी भाषा में पुरस्कार।

सामान्य ज्ञान-

भारतीय अर्थव्यवस्था, उत्तर प्रदेश राज्य की शिक्षा, संस्कृति एवं सामाजिक प्रथाएं, किताबें एवं उनके लेखक, भारतीय कृषि, भारत एवं उसके पड़ोसी देशों के साथ संबंध, भारतीय संस्कृति, भारतीय इतिहास, विभिन्न देशों की राजधानी एवं मुद्राएं, महत्वपूर्ण दिन, सामान्य विज्ञान, विभिन्न खोजें, आंतरिक सुरक्षा एवं आतंकवाद, भारतीय संविधान, उत्तर प्रदेश पुलिस, राजस्व एवं सामान्य प्रशासनिक व्यवस्था, उत्तर प्रदेश में बंदोबस्ती व्यवस्था, समकालीन राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महत्व के विषय, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय संगठन, विभिन्न प्रदर्शन एवं उनके प्रभाव, विमुद्रीकरण एवं उसका प्रभाव, जनसंख्या-पर्यावरण एवं शहरीकरण, मानवाधिकार, साइबर क्राइम, सोशल मीडिया कम्युनिकेशन, जीएसटी, पुरस्कार एवं सम्मान, भारतीय एवं विश्व भूगोल तथा प्राकृतिक संसाधन, व्यापार एवं वाणिज्य।

संख्यात्मक क्षमता-

साधारण ब्याज, अनुपात-समानुपात, चक्रवृद्धि ब्याज, प्रतिशत, लाभ-हानि, छूट, संख्यात्मक एवं मानसिक क्षमता, साझेदारी-औसत समय एवं कार्य, संख्या प्रणाली, समय और दूरी, टेबल एवं ग्राफ का उपयोग, सरलीकरण: दशमलव एवं अंश, क्षेत्रमिति, अंकगणितीय अभिकलन एवं अन्य विश्लेषणात्मक कार्य।

बौद्धिक क्षमता/रीजनिंग-

शब्द एवं वर्णमाला, समानता, सामान्य ज्ञान परीक्षण, दिशा बोध परीक्षण, तर्क बल, डाटा की तार्किक व्याख्या, पत्र एवं संख्या श्रंखला, निहित अर्थों का निर्धारण, तार्किक चित्र, प्रतीक-संबंध व्याख्या, धारणा परीक्षण, शब्द गठन परीक्षण।

एक पुलिस कांस्टेबल का वेतन कितना होता है? (What is the salary of a police constable?

पुलिस में भर्ती होने वाले युवा यह जानने को सर्वाधिक इच्छुक रहते हैं कि एक पुलिस कांस्टेबल का वेतन कितना होता है? अब हम आपको इसकी विस्तार से जानकारी देंगे। सातवें वेतन आयोग के अनुसार यह इस प्रकार से है-

बेसिक पे (basic pay) 21,700 रुपए + ग्रेड पे (grade pay) 7,200 रुपए

इस प्रकार एक कांस्टेबल को मासिक सकल वेतन (gross monthly salary) 30 हजार रूपये से लेकर 40 हजार तक मिल जाता है। यद्यपि इस महंगाई के जमाने में इस वेतन को बहुत अधिक नहीं माना जा सकता। लेकिन इस वेतन के साथ एक पुलिस कांस्टेबल को कई प्रकार के भत्ते (allowances) भी प्राप्त होते हैं, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • महंगाई भत्ता (dearness allowance)।
  • चिकित्सा भत्ता (medical allowance)।
  • अवकाश नकदीकरण (leave encashment)।
  • मकान किराया भत्ता (house rent allowance)।
  • यात्रा भत्ता (travel allowance)।
  • डिटेचमेंट भत्ता (detachment allowance)।
  • हाई एल्टीट्यूड भत्ता (high altitude allowance)।
  • शहर मुआवजा भत्ता (city allowance)।

आपको आगाह कर दें कि यह सुविधाएं एवं वेतन प्रत्येक राज्य में एक जैसी नहीं हैं। विभिन्न राज्यों के लिहाज से कांस्टेबल पद के लिए वेतन, भत्तों एवं सुविधाओं में अंतर हो सकता है। जैसे-यह उत्तर प्रदेश में अलग, राजस्थान में अलग उत्तराखंड में अलग एवं मध्य प्रदेश में अलग हो सकता है।

पुलिस कांस्टेबल की पदोन्नति कैसे होती है? (How does a police constable get promoted?)

यदि एक युवा पुलिस कांस्टेबल के रूप में पुलिस विभाग में भर्ती होता है तो उसके कार्य, अच्छे व्यवहार एवं आचरण तथा पिछले रिकार्ड के आधार पर उसे नियमित अंतराल पर पदोन्नति भी मिलती रहती है। एक कांस्टेबल इंस्पेक्टर (inspector) के पद तक प्रोन्नत हो सकता है। उसकी पदोन्नति का क्रम इस प्रकार से है-

  • मुख्य आरक्षी यानी हेड कांस्टेबल (head constable)
  • सहायक उप निरीक्षक यानी एएसआई (ASI)
  • उप निरीक्षक यानी एसआई (SI)
  • निरीक्षक यानी इंस्पेक्टर (inspector)

12वीं के बाद पुलिस में भर्ती होनेे के लिए कैसे तैयारी करें? (How to start preparing for recruitment in police after 12th?)

यदि आप 12वीं के बाद पुलिस में भर्ती होना चाहते हैं तो 12वीं में प्रवेश से पूर्व इस परीक्षा के लिए तैयारी शुरू कर दें। सामान्य अध्ययन/सामान्य ज्ञान (general studies/general knowledge) के लिए करेंट अफेयर्स (current affairs) की पुस्तकों का अध्ययन लाभकारी रहेगा। आप एक हिंदी एवं अंग्रेजी का न्यूज पेपर (news paper) रोज पढ़ने की आदत डाल लें।

इन दिनों इंटरनेट (internet) का जमाना है तो आप कुछ अच्छे करेंट अफेयर्स पर आधारित यूट्यूब चैनलों (YouTube channels) की भी सहायता अपनी तैयारी के लिए ले सकते हैं। यदि आपका कोई परिचित पुलिस विभाग में कार्य कर रहा तो तैयारी के टिप्स (tips) आप उससे भी ले सकते हैं।

खास बात यह है कि आपको फिजिकल टेस्ट (physical test) के लिए विशेष तौर पर तैयारी करने की आवश्यकता होगी। जो मानक (standard) पुलिस विभाग ने भर्ती के लिए निर्धारित किए हैं, जिनकी जानकारी हमने आपको ऊपर पोस्ट (post) में दी है, आपको उसी के अनुसार तैयारी करनी होगी।

यह तो हम आपको बता ही चुके हैं कि आरक्षित वर्ग (reserved category) के अभ्यर्थियों को पुलिस विभाग (police department) में भर्ती में नियमानुसार (according to rules) छूट का प्रावधान किया गया है।

क्या 12वीं के बाद पुलिस में भर्ती हो सकते हैं?

जी हां, 12वीं के बाद पुलिस में भर्ती हो सकते हैं।

12वीं के पश्चात पुलिस विभाग में पहली भर्ती किस पोस्ट पर होती है?

12वीं के पश्चात पुलिस विभाग में पहली भर्ती कांस्टेबल की पोस्ट पर होती है।

पुलिस कांस्टेबल को हिंदी में क्या कहा जाता है?

पुलिस कांस्टेबल को हिंदी में सिपाही अथवा आरक्षी पुकारा जाता है।

पुलिस कांस्टेबल की पदोन्नति किस पोस्ट तक हो सकती है?

पुलिस कांस्टेबल की पदोन्नति हेड कांस्टेबल, एएसआई एवं एसआई के क्रमानुसार इंस्पेक्टर तक हो सकती है।

12वीं के बाद पुलिस विभाग में कैसे भर्ती हो सकते हैं?

12वीं के पश्चात पुलिस में भर्ती होने की प्रक्रिया के बारे में हमने आपको ऊपर पोस्ट में विस्तार से जानकारी दी है। आप वहां से पढ़ सकते हैं।

क्या पूरे देश में पुलिस विभाग में भर्ती के एक जैसे नियम हैं?

जी नहीं, यदि बात कांस्टेबल के पद की करें तो पूरे देश में पुलिस विभाग में भर्ती के नियम अलग अलग हैं।

क्या सीने की माप का नियम केवल पुरुषों के लिए है?

जी हां, यह नियम केवल पुरुषों के लिए रखा गया है। महिलाओं को इससे छूट दी गई है।

पुरुषों को पुलिस भर्ती के लिए कितने किलोमीटर की दौड़ लगानी होती है?

पुरुषों को पुलिस भर्ती के लिए 5 किलोमीटर की दौड़ लगानी होती है। इसके लिए 25 मिनट का समय निर्धारित किया गया है।

महिलाओं को पुलिस भर्ती के लिए कितने किलोमीटर की दौड़ लगानी पड़ती है?

महिलाओं को पुलिस भर्ती के लिए 15 मिनट में ढाई किलोमीटर की दौड़ लगानी पड़ती है।

दोस्तों, हमने आपको 12वीं के बाद पुलिस में कैसे जाएं? पुलिस बनने के लिए कौन सी पढ़ाई की जाती है? विषय पर महत्वपूर्ण जानकारी दी। यदि आप भी पुलिस में भर्ती होना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए ही है। आप आवश्यक योग्यताएं अपने भीतर विकसित कर पुलिस में भर्ती हो सकते हैं। इस पोस्ट पर आपके सभी सवालों का स्वागत है। आप इसके लिए कमेंट बाक्स (comment box) में कमेंट (comment) कर सकते हैं। ।।धन्यवाद।।

———————————-

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

एक देश एक राशन कार्ड योजना नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना यूपी जनसंख्या कानून क्या है? मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड कम्युनिकेशन स्किल इम्प्रूव करने के 8 तरीके